Home देश ममता बनर्जी की TMC पार्टी प र चु नाव आयोग हु आ स ख्त, क हा ये...

ममता बनर्जी की TMC पार्टी प र चु नाव आयोग हु आ स ख्त, क हा ये जो आ प

नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान घायल हुईं तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी की खबरे आजकल काफी सुर्खियाँ बटोर रही है|

इस घटना के साथ ही TMC नेताओं ने न सिर्फ बीजेपी को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया बल्कि, चुनाव आयोग की भी आलोचना कर दी|

चुनाव आयोग को कहा गया कि, वो अपनी जिम्मेदारी से नहीं भाग सकता क्योंकि चुनावी राज्य में कानून-व्यवस्था की जिम्मेदारी उसके पास है|

इतना ही नहीं TMC की ओर से यह आरोप भी लगाया गया कि, चुनाव आयोग बीजेपी के आदेशा पर काम कर रहा है|

तृणमूल के एक प्रतिनिधिमंडल ने कोलकाता में चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात की और कहा कि, बनर्जी पर हमले की आशंका की रिपोर्ट के बावजूद आयोग ने कुछ नहीं किया|

अब जानकारी आई है कि, चुनाव आयोग ने इस विषय पर कड़े शब्दों में TMC की निंदा करते हुए एक पत्र लिखा है|

पत्र में लिखा कि, ‘इन आरोपों पर जवाब देना भी अशोभनीय लगता है कि आयोग ‘एक दल विशेष’ के कहने पर राज्य में काम कर रहा है।’

आगे लिखा, ‘शुरुआत में कहना होगा कि नंदीग्राम में बनर्जी को चोट लगना वास्तव में एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और इसकी पूरी तरह जांच होनी चाहिए।’

पत्र में आयोग ने लिखा, ‘यह भी दुर्भाग्यपूर्ण है कि कथित ज्ञापन आक्षेपों और कठोर बयानों से भरा हुआ है, जो चुनाव आयोग के गठन और कामकाज के आधार पर ही सवाल खड़े करता है।’

साथ ही कहा, ‘यह कहना पूरी तरह गलत है कि चुनाव आयोग ने राज्य में चुनाव कराने के नाम पर कानून व्यवस्था अपने हाथ में ले ली है।’

आगे कहा, ‘यह एक तरह से भारतीय संविधान की बुनियाद को ही कमजोर करने के समान है जो लोकतांत्रिक शासनतंत्र का सबसे पवित्र दस्तावेज है। पश्चिम बंगाल समेत किसी राज्य के दिन-प्रतिदिन के शासन को आयोग अपने हाथ में नहीं लेता है।’

पश्चिम बंगाल के पुलिस महानिदेशक को पद से हटाने के ऊपर आयोग ने लिखा कि, ‘उन्हें बिना सोचे-समझे नहीं हटाया गया है। यह विशेष पर्यवेक्षक अजय नायक और विवेक दुबे की सिफारिशों के परिणाम स्वरूप किया गया है।’