Home देश भारत के अमीर बिजनेसमैन रिलायंस इंडस्ट्रीज के सीईओ मुकेश अंबानी को नुकसान,...

भारत के अमीर बिजनेसमैन रिलायंस इंडस्ट्रीज के सीईओ मुकेश अंबानी को नुकसान, संपत्ति घटी,

कृषि क़ानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध प्रदर्शन को चलते बीस दिनों से भी ज्यादा का समय हो चुका है। देश की अर्थव्यवस्था पर अब इसका गहरा असर देखने को मिल रहा है। 

सोमवार (21 दिसम्बर) को शेयर बाजार जगत को इस आंदोलन के कारण भारी नुकसान उठाना पड़ा है। तो विस्तार से शेयर बाजार के हाल को जानते है। 

बता दें कि, सेंसेक्स 2037 अंक तक टूटकर 44,923.08 के निचले स्तर पर आ गया। जबकि दिन के अंत में सेसेक्स 1406 अंक गिरकर 45,553.96 पर बंद हुआ। इसके अलावा निफ्टी 432.15 अंक गिरकर 13,328.40 पर बंद हुआ। बताया जा रहा है कि, 4 मई के बाद आई यह सबसे बड़ी गिरावट है। जब सेंसेक्स में 2002 अंक की गिरावट दर्ज हुई थी। 

हैरान करने वाली बात यह है कि, जानकारों के अनुसार बाजार में अभी कम से कम 5 फीसदी तक की और गिरावट आ सकती है। लेकिन सिर्फ सोमवार की बात करे तो निवेशकों को 6 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है। बीएसई का टोटल मार्केट 178.46 लाख करोड़ रुपए पर रहा, जबकि शुक्रवार को यह 185.36 लाख करोड़ रुपए था।

एक तरफ देश में चल रहे किसान आंदोलन का असर शेयर बाजार पर देखने को मिल रहा है, वहीं दूसरी तरफ ब्रिटेन में कोरोना वायरस के एक नए स्ट्रेन के आ जाने की खबरों ने भी दुनियाभर के बाजारों पर प्रभाव डाला है। घरेलू बाज़ार पर भी असर देखने को मिला है। जहां ओएनजीसी में सबसे ज्यादा 9.15 फीसदी की गिरावट रही। इंडसइंड बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और एनटीपीसी में भी 5 फीसदी से अधिक की गिरावट रही।

कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के आने की खबर के चलते डर के मारे निवेशकों ने अपना पैसा निकालना शुरू कर दिया है। बता दें कि, इन सबके बीच एक्सिस सिक्योरिटीज के चीफ इनवेस्टमेंट ऑफिसर नवीन कुलकर्णी के कहे अनुसार, भारत के लिए व्यापक परिदृश्य अब भी पॉजिटिव है क्योंकि आर्थिक गतिविधियां जोर पकड़ रही हैं और नकदी की स्थिति लगातार मजबूत बनी हुई है। लेकिन अमेरिका में स्टीम्युलस पैकेज को मंजूरी मिलने से इक्विटी बाजार प्रभावित होंगे।