Home देश गुरुद्वारा रकाबगंज पहुंचे PM मोदी तो भड़क उठी अलका लाम्बा, फौरन ट्विटर...

गुरुद्वारा रकाबगंज पहुंचे PM मोदी तो भड़क उठी अलका लाम्बा, फौरन ट्विटर पर आई और ट्वीट कर कहा आपने

रविवार की सुबह अचानक देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्‍ली के गुरुद्वारा रकाबगंज दर्शन करने को पहुंचे। जहां उन्होंने माथा टेका। 

साथ ही गुरु तेग बहादुर को श्रद्धांजलि दी। पीएम मोदी के इस दौरे की पहले से कोई निर्धारित योजना नहीं थी। अचानक इसका निर्णय हुआ।

अब जैसा कि हमेशा ही पीएम मोदी के हर कदम की विपक्षी पार्टी द्वारा आलोचना होती रहती है, इस बार गुरुद्वारा रकाबगंज पहुँचने पर भी कांग्रेस नेता अलका लाम्बा भड़क गई। भड़कते हुए उन्होंने कई ट्वीट करके अपनी बात सबके बीच रखी। अलका लाम्बा ने एक ट्वीट में लिखा, ‘अपने पापों की माफ़ी माँगने गए होगें, अच्छी बात है, पर प्रधानमंत्री मोदी जी को कोई जाकर बताये कि #गुरु_दा_सच्चा_बंदे ते #SinghuBorder पर बैठे हैं। जाना है तो वहाँ जाएं।

दूसरे ट्वीट में लिखा, गुरुद्वारे में जब पाठ चल रहा हो तब बीच में किसी को भी बात करने की इजाज़त नहीं होती और हमारे प्रधानमंत्री जी पीछे चल रहे पाठ को अनसुना कर राजनीति कर रहे हैं, पाठ सुना होता तो शायद ख़ुद के किसान विरोधी फैसलों में बदलाव कर पाते, पर ऐसा हो ना सका। वैसे बता दें कि, पीएम मोदी के इस दौरे के लिए कोई खास व्यवस्था नहीं की गई थी। वो समान्य तरीके से गए थे। 

अपनी इस दौरे को लेकर खुद पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा, ‘आज सुबह, मैंने ऐतिहासिक गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब में प्रार्थना की। मैं काफी सुखी महसूस कर रहा था। मैं दुनिया भर के लाखों लोगों की तरह श्री गुरु तेग बहादुर जी की दयालुता से बहुत प्रेरित हूं। यह गुरु साहिब की विशेष कृपा है कि हम अपनी सरकार के कार्यकाल के दौरान श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400 वें प्रकाश पर्व के विशेष अवसर को मनाएंगे। 

आगे यह भी लिखा कि, ‘आइए हम इस नेक अवसर को ऐतिहासिक तरीके से मनाएं और श्री गुरु तेग बहादुर जी के आदर्शों को अपनाएं। शनिवार को भी पीएम मोदी ने सिखों के नौवें गुरु तेगबहादुर के शहीदी दिवस पर उन्‍हें नमन करते हुए ट्वीट कर लिखा था कि, श्री गुरु तेग बहादुर जी का जीवन साहस और करुणा का प्रतीक है। श्री गुरु तेग बहादुर के शहीदी दिवस पर मैं उन्हें नमन करता हूं और समावेशी समाज के उनके विचारों को याद करता हूं।’