Home देश हिन्दू महासभा के बयान आया सामने कहा नौकरी के चक्कर मे दाढ़ी...

हिन्दू महासभा के बयान आया सामने कहा नौकरी के चक्कर मे दाढ़ी कटवाने वाले दरोगा को…

कुछ दिनों पहले उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद से एक ख़बर आई थी। जहां एक सब इंस्पेक्टर को एसपी ने निलंबित कर दिया था। उसे निलंबित किए जाने का कारण चर्चा का विषय बन गया। 

दरअसल, इंतसार अली नाम के एक सब इंस्पेक्टर को बड़ी दाढ़ी रखने के कारण निलंबित किया गया। जोकि रमाला थाने में तैनात था। 

तो SP अभिषेक सिंह ने तीन बार सब इंस्पेक्टर अली को दाढ़ी कटवाने या अनुमति लेने की हिदायत दी थी, लेकिन उसके बाद भी इंतसार अली ने एसपी के निर्देश का पालन नहीं किया और ना ही उसने दाढ़ी के लिए विभाग से अनुमति ली। तो आखिरकार निर्देश का उलंघन होता देख एसपी को ऐसा कदम उठाना पड़ा। अभिषेक सिंह ने पूरे मामले पर अपनी बात भी रखी थी। 

इन सबके बीच अब मामले पर उत्तर प्रदेश के मेरठ से अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा का बड़ा बयान सामने आया है। अशोक शर्मा कहना है कि, देश के अंदर कट्टरवाद का बीज बोया जा रहा है। उन्होंने धर्म का प्रचार करने के लिए दाढ़ी रखी थी। लेकिन बाद में नौकरी की लालच में वो अपने धर्म को भूल गए। 

पंडित अशोक शर्मा आगे बोले, ‘जब उन्हें नौकरी से सस्पेंड किया गया तो उन्होंने आऩन-फानन में दाढ़ी कटवा ली। अगर दारोगा जी धर्म के पक्के थे तो उन्हें दाढ़ी नहीं कटवानी चाहिए थी। जब बात नौकरी पर आई थी कट्टर दारोगा जी डर कर भाग गए। इसके साथ ही उन्होंने भारत सरकार से मांग की है कि ऐसे कट्टर दारोगा को बर्खास्त किया जाये। 

इस मुद्दे पर एसपी अभिषेक सिंह ने भी बयान दिया था कि, दारोगा इंतसार अली विभाग की अनुमति के बिना चेहरे पर दाढ़ी रख रहे थे। तीन बार उन्हें दाढ़ी कटवाने की हिदायत दी जा चुकी थी, लेकिन उसके बावजूद वह उनके निर्देशों का पालन नहीं कर रहे थे। इसलिए उनके खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की गई है। यानि इंतसार अली को कई बार पुलिस मैनुअल के चलते नोटिस दिया गया था।