Home देश कंगना के बाद अब अक्षय कुमार पर फूटा शिवसेना का गुस्सा, जो...

कंगना के बाद अब अक्षय कुमार पर फूटा शिवसेना का गुस्सा, जो किया वो देखकर आप भी है’रान रह जाएंगे

मुंबई में शिवसेना और एक्ट्रेस कंगना रनौत के बीच चल रही जुबानी जंग खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। मुखपत्र सामना में शिवसेना ने यह लिखा गया कि, कम-से-कम अक्षय कुमार आदि बड़े कलाकारों को तो सामने आना ही चाहिए था। 

अक्षय को लेकर लिखा गया कि, ‘मुंबई ने उन्हें भी दिया ही है। महाराष्ट्र के भूमिपुत्रों को एक हो जाना चाहिए। यानि शिवसेना ने कंगना के अलावा बीजेपी और बॉलीवुड के बाकी कलाकारों को भी संबोधित कर दिया है। 

यहाँ एक बार फिर से ‘बाहरी लोगों’ की बात कह दी गई। सामना में लिखा गया, ‘महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई को ग्रहण लगाने का प्रयास एक बार फिर शुरू हो गया है। ये ग्रहण बाहरीलोग लगा रहे हैं। शिवसेना ने आगे लिखा कि, ‘लेकिन इन्हें मजबूत बनाने के लिए परंपरा के अनुसार हमारे ही घर के भेदी आगे आए हैं। बीच के दौर में मुंबई को पाकिस्तान कहा गया। 

मुंबई को पहले पाकिस्तान बाद में बाबर कहने वालों के पीछे महाराष्ट्र कि बीजेपी खड़ी होती है, इसे दुर्भाग्य ही कहना होगा। कोई भी मुंबई- महाराष्ट्र पर कीचड़ उछाले, अब तो इस पर रोक लगनी चाहिए। दिल्ली अथवा महाराष्ट्र में सरकार किसी की भी हो, कोई अज्ञात शक्ति हमारी मुंबई के विरोध में योजनाबद्ध ढंग से साजिश करती रहती है। बीजेपी अपनी राष्ट्रीय नीतियों के अनुसार भूमिका अपना रही है। 

यानि सामना ने न सिर्फ कंगना पर निशाना साधा बल्कि उसे वाई श्रेणी की सुरक्षा देने वाली बीजेपी पार्टी पर भी तंज़ कसा और लिखा कि, ‘ऐसी ही राष्ट्रीय भूमिका पहले कांग्रेस अपनाती थी इसे भूलना नहीं चाहिए। आज फिर भूमिपुत्रों की तथा मराठी स्वाभिमान का योजनाबद्ध ढंग से दमन करने का प्रयास हो रहा है।कंगना की भाषा पर बात करते हुए शिवसेना ने कहा कि,एक नटी (अभिनेत्री) मुंबई में बैठकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के प्रति तू-तड़ाक की भाषा में बोलती है। 

चुनौती देने की बात करती है और उस पर महाराष्ट्र की जनता द्वारा कोई प्रतिक्रिया नहीं दी जाती है, यह कैसी एकतरफा आजादी है? उसके अवैध निर्माण पर हथौड़ा चला, तो वह मेरा राम मंदिर ही था, ऐसा ड्रामा उसने किया। लेकिन उसने यह अवैध निर्माण कानून का उल्लंघन करके उसके द्वारा घोषित किए गए पाकिस्तानमें किया था। मुंबई को पाकिस्तान कहना व उसी पाकिस्तानमें स्थित अवैध निर्माण पर सर्जिकल स्ट्राइक की छाती पीटना, यह कैसा खेल है?’