Home लाइफस्टाइल हार्ट अटैक के 5 लक्षण

हार्ट अटैक के 5 लक्षण

हार्ट अटैक की बात की जाए तो इसके अंतर्गत दिल के कुछ भागों में रक्त संचार में बाधा होने की वजह से दिल के उस हिस्से मे कोशिकाएं मर जाती हैं। हार्ट अटैक का दर्द अचानक कभी भी हो जाता है। जिस कारण बहुत तेज़ दर्द होता है और इस दर्द को आप किसी एक जगह छू कर बता नहीं पाते है।

इसके अलावा हम सब ने silent अटैक के बारे मे भी सुना होगा। यह अपने आप मे एक अलग प्रकार का केस है। हार्ट अटैक मे व्यक्ति महसूस करता है जैसे कि छाती पर कोई भारी चीज रख दी हो।वैसेलोग सीने में होने वाले भयानक दर्द को कही हार्ट अटैक ना समझ बैठे। बता दे कि हार्ट बर्न भी एक समस्या है। जोकि पेट में बनने वाले एसिड की वजह से होती है। जिसमे भी सीने में तेज दर्द उठता है।

लेकिन इसका हृदय से संबंध नहीं होता है। सीने में कई दूसरे कारणों से भी दर्द हो सकता है। तो इसका पता होना बेहद ज़रूरी है। बता दे कि दिल मे तीन धमनियां होती हैं। जोकि दिल तक खून पहुंचाने का काम करती है।

ए धमनी ब्लॉक हो तो खून ना मिलने से दिल का उतना हिस्सा मर जाता है। लेकिन बाकी 2 धमनियों के सही होने से उनके माध्यम से दिल तक खून की सप्लाइ होती रहती है। इस तरह दिल काम करते रहता है।

यहाँ हम आपको 5 ऐसे संकेतों के बारे मे बता रहे है, जिसकी मदद से आपको 1 महीने पहले ही हार्ट अटैक का अनुमान लग जाएगा। पहला संकेत है: 1. पैर व शरीर के अन्य हिस्सों मे सूजन का होना: खून सप्लाई मे अवरोध के कारण शरीर के कई हिस्सों मे सूजन आ जाती है । 2. सांस लेने में तकलीफ: जब हार्ट फेफड़ों तक ऑक्सीजन नहीं पहुंचा पाता, तब सांस लेने मे तकलीफ होने लगती है।

3. सीने में दर्द या जलन: सीने में अक्सर रहने वाली दर्द और जलन हार्ट अटैक का मुख्य लक्षण है। 4. कमजोरी और थकान: पर्याप्त मात्रा मे शरीर को ऑक्सीजन नहीं मिलने से ऐसा होता है। हृदय खून के सहारे ही ऑक्सीजन को पूरे शरीर में भेजता है। 5. चक्कर आना: हृदय में कुछ ख़राबी के चलते दिमाग मे ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती। तो इन संकेतों को देखते ही तुरंत डॉक्टर के पास जाए और उनसे सलाह ले।